रेलवे स्टेशनों पर बने आलीशान होटल जैसे कमरे भी होते हैं! किराया मात्र 30-40 रुपये है

रेलवे हर स्टेशन पर यात्रियों के आराम करने के लिए विश्राम गृह उपलब्ध कराता है। यात्री अपने पीएनआर नंबर के जरिए रिटायरमेंट रूम बुक कर सकते हैं। भारतीय रेलवे समय-समय पर अपने यात्रियों को लुभाने की कोशिश कर रहा है। लेकिन कई बार यह टिकट के दाम बढ़ाकर अपने यात्रियों की टेंशन बढ़ा देता है। ट्रेन यात्रा आमतौर पर सस्ती और दिलचस्प होती है। अगर पैसेंजर के पास विंडो सीट है तो उसे कुछ भी सोचने की जरूरत नहीं है। वे पूरे रास्ते आराम से सड़कों के दृश्य का आनंद ले सकते हैं और अपनी सबसे लंबी यात्रा कर सकते हैं। लेकिन क्या होगा अगर पैसेंजर ट्रेन देरी से चल रही है?

अगर ट्रेन लेट है तो आप रिटायरमेंट रूम का फायदा उठा सकते हैं: सर्दियों में कोहरे की वजह से ट्रेनों का लेट होना बहुत आम बात है। हजारों यात्री ट्रेनों के इंतजार में स्टेशनों पर खड़े रहते हैं, यह जानते हुए कि वे दो, चार, सात या आठ घंटे लेट होंगी। कई बार तो 12 से 15 घंटे तक की देरी हो जाती है। कब तक कड़ाके की ठंड में खुले स्टेशन में यात्री कांपेंगे? इस समस्या के समाधान के लिए रेलवे हर स्टेशन पर यात्रियों के आराम करने के लिए विश्राम गृह उपलब्ध कराता है। लेकिन इस रिटायरमेंट रूम के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। भारतीय रेलवे द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवानिवृत्ति कक्ष सुविधाएं शुल्क के लिए हैं। दूसरे शब्दों में, आपको सुविधा का लाभ उठाने के लिए एक राशि का भुगतान करना होगा। रिटायरमेंट रूम बुक करने के बाद आप यहां कुछ देर आराम कर सकते हैं। ट्रेनें निर्धारित समय से 12 या 24 घंटे पहले या बाद में हो सकती हैं।

रिटायरिंग रूम कैसे बुक करें: अब आपके दिमाग में यह सवाल आ रहा होगा कि रिटायरमेंट रूम कैसे बुक होते हैं? तो इसके लिए सबसे पहले आपको अपने टिकट का पीएनआर नंबर चाहिए। क्योंकि रिटायरमेंट रूम को सिर्फ पीएनआर नंबर के जरिए ही बुक किया जा सकता है। प्रमुख स्टेशनों पर आपको एसी और नॉन-एसी सहित दो प्रकार के विश्राम कक्ष मिलेंगे। आप इंटरनेट की मदद से रिटायरमेंट रूम को एडवांस में भी बुक कर सकते हैं। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि सेवानिवृत्ति कक्ष की सुविधा केवल उन यात्रियों के लिए उपलब्ध है जिनके पास कन्फर्म टिकट या आरएसी है। प्रतीक्षा टिकट, कार्ड टिकट और प्लेटफार्म टिकट के मामले में सेवानिवृत्ति कक्ष की सुविधा प्रदान नहीं की जाती है। हालांकि, अगर आपके पास 500 किलोमीटर से ज्यादा का नॉर्मल टिकट है तो आप इस सुविधा का पूरा फायदा उठा सकते हैं।

यह भी ध्यान देने योग्य है कि आप केवल एक पीएनआर नंबर के साथ एक कमरा पंजीकृत कर सकते हैं। रिटायरमेंट रूम पहले आओ पहले पाओ के आधार पर बुक किए जाते हैं और अगर रिटायरमेंट रूम भर जाते हैं तो ऐसी स्थिति में आपका नाम प्रतीक्षा सूची में रखा जाएगा। दूसरे व्यक्ति का टिकट रद्द होने के बाद इसे अपडेट किया जाएगा।

स्टेशन पर रिटायरमेंट रूम की सुविधा उपलब्ध है: रिटायरमेंट रूम बुकिंग के लिए पीएनआर नंबर के अलावा आपको फोटो, आईडी कार्ड, पासपोर्ट, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड और क्रेडिट कार्ड से पासबुक जैसे दस्तावेजों की जरूरत होती है। अधिकांश लोगों को रेलवे स्टेशनों पर विश्राम कक्ष की सुविधा के बारे में पता नहीं है क्योंकि देश के सभी स्टेशनों पर विश्राम कक्ष की सुविधा उपलब्ध नहीं है। आपको दिल्ली, मुंबई और चेन्नई जैसे देश के प्रमुख स्टेशनों पर सेवानिवृत्ति कक्ष की सुविधा मिलेगी।

Copy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy