SUV Cars: भारतीयों में बढ़ता दिख रहा SUV का क्रेज़, 60 महीनों में आये 36 नए मॉडल

SUV Cars: देश भर में SUV का क्रेज हर बीते दिन के साथ बढ़ रहा है। यही कारण है कि बीते 60 महीने यानी 5 साल में अब तक 36 नए SUV मॉडल लॉन्च कर दिए गए हैं। इतना ही नहीं एसयूवी गाड़ियों का ‘क्रेज’ इतना ज्यादा है कि कुछ सबसे ज्यादा पॉपुलर गाड़ियों के मॉडल को खरीदने के लिए लोगों को दो साल तक का इंतजार करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं बंपर प्री ऑर्डर करने के बाद भी कंपनियों को इसका ऑर्डर मिलते जा रहा है। इस टॉप मॉडल को प्राथमिकता दे कर कार खरीदार गाड़ियों पर ज्यादा खर्च करने को तैयार हैं। साथ ही उन गाड़ियों का इंतजार कर रहे हैं जिनमें सनरूफ और लेटेस्ट टेक्नोलॉजी जैसी खूबियां है।

तेज़ी से हुई SUV पॉपुलर

ऑटोमोबाइल मार्केट ऐसा बाजार जहां हैचबैक की बिक्री सबसे अधिक हुआ करती थी। पर अब वहां शुरुआती लेवल की और मिड-साइज के स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल यानी SUV तेजी से पॉपुलर हो रही है। यही कारण है कि कुछ समय के अंतराल पर इस कैटेगरी के नए-नए मॉडल बाजार में उतारे जा रहे हैं।

40% का SUV ka योगदान

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के बारे में मारुति सुजुकी इंडिया के सीनियर एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर (सेल्स मार्केटिंग) शशांक श्रीवास्तव ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, ”बीते कुछ साल में एसयूवी कैटेगरी में जबरदस्त वृद्धि देखने को मिली है। एसयूवी कैटेगरी का योगदान इंडस्ट्री में करीब 19 प्रतिशत हुआ करता था जो 2021-22 में बढ़कर 40 फीसदी हो गया तथा यह और बढ़ता जा रहा है।”

प्रीमियम हैचबैक को पछाड़ा

एसयूवी कैटेगरी की मांग बढ़ने के साथ शुरुआती लेवल की पैसेंजर व्हीकल मार्केट में सबसे बड़ी हिस्सेदारी रही। साथ ही इसने 2011 से बाजार पर राज करने वाली प्रीमियम हैचबैक को पछाड़ दिया।

कॉम्पैक्ट और मिड साइज SUV

जारी किए गए डेटा के अनुसार बीते साल 30.68 लाख गाड़ियों में से 6.52 लाख शुरुआती लेवल की SUV की थी। ऐसे में कोई सोचने वाली बात नहीं कि पिछले पांच सालों में पैसेंजर व्हीकल कैटेगरी में उतारे गए सर्वाधिक मॉडल कॉम्पैक्ट और मिड साइज की एसयूवी के थे।

Copy

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copy