आज से नया वित्तिय वर्ष हुआ शुरू : जानिए आपकी जेब पर पड़ेगा क्या असर

1 April

आज 1 अप्रैल से नया फाइनेंसियल ईयर शुरू हुआ है, और इस नए वर्ष के शुरू होते के साथ ही कई सारे ऐसे बदलाव बैंकिंग, ऑटोमोबाइल ,ट्रैवलिंग जैसे सेक्टर में होने जा रहे हैं जिसका सीधा असर आम लोगों की जीवन और जेब पर पड़ेगा।

आधार-पैन लिंक करना हो गया ज़रूरी, नही तो पैन नंबर हो जाएगा निष्क्रिय इस फाइनेंसियल ईयर के शुरू होते ही सबसे अहम बात जो सबके ध्यान देने वाली वह है कि अगर आप ने अब तक पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक नहीं किया गया तो इसके लिए पेनल्टी लगेगी यह पेनल्टी 30 जून 2022 तक ₹500 रहेगी और इसके बाद ₹1000 हो जाएगी और अगर अगले वित्तीय वर्ष की शुरुआत अर्थात 31 मार्च 2023 तक यह लिंक ना करवाया गया तो पैन नंबर ही निष्क्रिय हो जाएगा।

800 से ज्यादा लाइफ सेविंग्स दवाइयों की कीमत में बढ़ोतरी अभी के समय में लोगों का जीवन दवाइयों पर आश्रित हो चुका है। इसके बावजूद भी इसे किफायती बनाने के बजाय करीब 800 लाइफ सेविंग ड्रग्स के दाम में 10% तक की बढ़ोतरी कर दी गई है। इसमें पेन किलर से लेकर गंभीर बीमारियों तक की दवाइयां है।

एक्सिस बैंक ने किया नियमों में बदलाव नए नियम के मुताबिक डिमैट अकाउंट का और बैंक अकाउंट का केवाईसी होना जरूरी हो गया है। स्टॉक मार्केट में ट्रेड करने वाले लोगों के लिए जरूरी है कि वह अपना बैंक अकाउंट और डिमैट अकाउंट का केवाईसी करवा कर देखें। अन्यथा वह शेयर मार्केट में ट्रेडिंग नहीं कर पाएंगे।एक्सिस बैंक में सेविंग अकाउंट के लिए एवरेज मंथली बैलेंस की लिमिट को 10 हजार से बढ़ाकर ₹12 हज़ार कर दिया है। बैंक ने मेट्रो अर्बन जगहों में इजी सेविंग इक्वल एंड स्किल्स की मिनिमम बैलेंस की लिमिट को बढ़ाया है।

नेशनल हाई वे पर बढ़ाया गया टोल टैक्स बदलाव हुए नियमों के बाद अब आज रात से एनएच पर सफर करना भी महंगा हो गया है। एनएचएआई ने टोल टैक्स में 10 से ₹65 तक की बढ़ोतरी कर दी है। छोटे वाहनों के लिए ₹10 से 35 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। वहीं कमर्शियल वाहन के लिए ₹65 तक की बढ़ोतरी की गई है।

होम लोन में भी खत्म किया गया टैक्स में छूट टैक्स की बात की जाए तो अब होम लोन के चुकाए गए ब्याज पर टैक्स में छूट का फायदा नहीं मिलेगा। इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80ई ई ए के तहत डेढ़ लाख तक के अतिरिक्त कटौती का लाभ अब नहीं दिया जाएगा। पहले आईटी एक्ट के सेक्शन 24 बी के तहत अगर 45 लाख से कम का घर पर हो तो ब्याज के भुगतान में डेढ़ लाख तक की कटौती हो सकती थी परंतु अब या खत्म कर दी गई है।

अब जिन कर्मचारियों ने पीएफ अकाउंट में ढाई लाख से ज्यादा रुपए जमा कर रखे हैं, उन्हें ब्याज पर इनकम टैक्स देना होगा। सरकारी कर्मचारियों के लिए यह सीमा ₹5 लाख तक रहेगी। टाटा मोटर्स ने अपनी गाड़ियों की कीमत में दो से ढाई प्रतिशत की तथा टोयोटा मोटर्स में 4% को बढ़ाने का फैसला किया है। साथ ही 1 अप्रैल से बीएमडब्ल्यू ने भी अपने सभी कार में 35% की बढ़ोतरी करने का सोचा है।

हेड फ़ोन,फ्रिज खरीदना हुआ महंगा क्रिप्टो करेंसी का बाजार अभी काफी चलन में है। खासकर युवाओं में ज्यादा क्रेज वर्चुअल करेंसी को लेकर आ गया है। इसे देखते हुए सरकार ने क्रिप्टो करेंसी पर 30% टैक्स लगा दिया है। अगर किसी व्यक्ति को क्रिप्टोकरंसी बेचने से लाभ होता है तो उसे उस पर टैक्स देना होगा। साथ ही बिक्री पर एक जुलाई से 1% का टीडीएस भी काटा जाएगा। इस वर्ष कई सारे ऑटोमोबाइल कंपनी ने अपने कुछ पार्ट्स पर इंपोर्ट ड्यूटी को बढ़ा दिया है जिससे प्रोडक्शन कॉस्ट तो खुद बढ़ जाएगा और फिर सामानों की कीमत में भी इजाफा हो जाएगा। हेडफोन के डायरेक्ट इंपोर्ट होने की वजह से ड्यूटी चार्ज को बढ़ाया गया है। अर्थात अब हेडफोन खरीदना हो या फिर कंप्रेसर फ्रिज रेट है जैसे सामानों को खरीदना काफी महंगा हो जाएगा। संक्षेप में देखा जाए तो यह वित्तीय वर्ष आम नागरिक की जीत पर काफी भारी पड़ने वाला है।

Copy

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copy