Traffic Challan: इन ट्रैफिक नियमों का किया उल्लंघन, तो जेल में बिताने पड़ेंगे 2 रात साथ ही कटेगा भरी भरकम चालान

Traffic Challan: ट्रैफिक नियमों के मुताबिक किसी भी प्रकार की ड्राइविंग यानी मोटर वाहन चलाने के लिए न्यूनतम उम्र 18 साल है। पर इन दिनों काफी बार देखा गया है कि इस नियम का पालन न करके खुद मां बाप अपने बच्चों को ये नियम तोड़ना सीखा रहे हैं। नाबालिक उम्र में बच्चों को गाड़ियों की चाबी थमा दी जा रही है। मालूम हो ज्यादातर ये स्कूल जाने वाले छात्र होते हैं। 18 से कम उम्र में ड्राइविंग के विषय पर विद्यालयों को भी सर्कुलर भेजे जाते हैं पर इसका असर बच्चों पर नहीं पड़ा। और ये नाबालिक ड्राइवर्स नहीं समझ पाते की अंत में वो खुद को जोखिमों से घेर रहे हैं। इसीलिए यह पे जिम्मेदारी मां बाप की होनी चाहिए और उन्हें अपने बच्चों पर ध्यान देने की जरूरत है।

तो ऐसे में यदि आपकी संतान 18 साल से कम उम्र की है, उसके बेहतर भविष्य के लिए आप उसके हाथ की मोटरसाइकिल या वाहन की चाभी न थमाए। इन हालातों में जरा सोचिए ड्राइविंग करते हुए आपका बच्चा हादसा का शिकार हो गए तो क्या होगा! भले आपके पास मोटर वाहन बीमा पॉलिसी होगी पर आप उसे क्लेम कैसे करेंगे? बात ये है कि यदि कोई भी 18 साल से कम उम्र का बच्चा ड्राइविंग कर रहा होता है तो बीमा के फायदे तब लागू नहीं होते हैं। इसीलिए कोई क्लेम नहीं किया जा सकता।

ये भी पढ़ेंक़र्ज़ में डूबा था व्यक्ति,घर बिकने वाला था, तभी Lottery से पलटी किस्मत बन गया करोड़पति

मालूम हो की यदि आपका कोई नाबालिक ड्राइविंग करते पकड़ में आ जाता है तो उसके पेरेंट्स या अभिभावकों पर कार्यवाही की जा सकती है। नाबालिग को ड्राइविंग करते पकड़ने जाने पर उसके माता-पिता पर 25 हजार रुपयों तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। साथ ही उन्हें 3 साल की जेल भी हो सकती है। इसीलिए, सावधान हो जाएं यदि आपका बच्चा नाबालिक है तो उसके हाथ में गाड़ी की चाभी न थमाए।

Copy

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copy