Imported Coal: इम्पोर्टेड कोयले से आएगी आपके घर बिजली, जिससे बढ़ेगा बिजली बिल!

Imported Coal: आने वाले समय की आपका बिजली बिल आपको महंगा करेंट दे सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि आने वाले दिनों में बिजली महंगी होने की आशंका जताई जा रही है। बता दें थर्मल पावर प्लांट्स में कोयले की कमी को पूरा करने के लिए मौजूदा वित्त वर्ष में 76 मिलियन टन Coal के आयात किए जाने के आसार है। अगर ऐसा होता है तो बिजली 50 से 80 पैसे प्रति यूनिट तक महंगी हो सकती है। जिसक भार आम उपभोक्ताओं को उठाना होगा।

इम्पोर्टेड Coal से चलेंगे थर्मल पावर प्लांट!
देश में मानसून की एंट्री हो गई है। लगभग सितंबर के महीने तक मानसून रहेगा, जिसका सीधा असर कोयले के उत्पादन और सप्लाई पर पड़ेगा। तो इन हालातों में देश की सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी कोल इंडिया बिजली घरों में कोयले की सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए 15 मिलियन टन कोयला आयात करने वाली है। इसके अलावा आपको बता दें एनटीपीसी और दामोदर वैली कॉरपोरेशन भी 23 मिलियन टन कोयला आयात करेगी। साथ ही राज्यों की बिजली उत्पादन कंपनी और निजी पावर प्रोड्यूसर्स भी आने वाले समय में 38 मिलियन टन कोयला आयात करेंगे। बता दें कोयले का घरेलू उत्पादन अगस्त, सितंबर और अक्टूबर के दौरान कोयले की मांग को पूरा करने के लिए काफी नहीं है इसलिए आयात करने का निर्णय लिया गया है जोकि सही भी है।

इंपोर्टेड Coal से बढ़ सकती है लगता
कोयले का आयात करवाने से पावर उत्पादन करने वाली कंपनियों की लागत बढ़ जाएगी। अभी पावर लगभग करीब 50 से 80 पैसे प्रति यूनिट बनता है। वहीं पोर्ट से थर्मल पावर प्लांट की दूरी के आधार पर भी लागत पर असर पड़ सकता है। गौरतलब है कि देश में बिजली की मांग प्रतिदिन बढ़ रही है जिसके अनुसार घरेलू कोयले का उत्पादन नहीं बढ़ पाया है। मौसम का हाल देखें तो मानसून के दौरान उत्पादन और ट्रांसपोर्टेशन दोनों ही पर असर पड़ता है। हालांकि, सरकार द्वारा देश में ब्लैकआउट्स की संभावना को देखते हुए कोयले का आयात का निर्णय लिया गया है।

कम हो रहा Coal
मालूम हो कि भारत के सारे पावर प्लाट्स में रोजाना लगभग 2.1 मिलियन टन कोयले का इस्तेमाल होता है। बता दें सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी अथॉरिटी पावर प्लाट्स में कोयले के स्टॉक को मॉनिटर करती है जिसके मुताबिक 19 जुलाई को पावर प्लांट्स में 28.40 मिलियन टन कोयले का स्टॉक था जो जरुरी कैपेसिटी 56.92 मिलियन टन का 50% है। इसके अलावा सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी अथॉरिटी जिन 173 पावर प्लाट्स में कोयले के स्टॉक को मॉनिटर करती है उसमें से 7 पावर प्लांट्स इंपोर्टेड कोल बेस्ड पावर प्लांट और 51 घरेलू कोल बेस्ड पावर प्लांटस में कोयले के स्टॉक की गंभीर स्ठिति बनी हुई है।

Copy

2 thoughts on “Imported Coal: इम्पोर्टेड कोयले से आएगी आपके घर बिजली, जिससे बढ़ेगा बिजली बिल!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy