Edible Oil Rates: खाने के तेल को लेकर आई अच्छी ख़बर, कीमत होगी कम, जानें क्या है नया रेट..

Edible Oil Rates: बढ़ती मंहगाई के बीच हम आपके लिए एक राहत भरी अच्छी खबर लेकर आए हैं। जी हां, खाने का तेल की कीमत बहुत जल्द कम होने वाली है। इस बात की जानकारी वित्त मंत्रालय के अधिकारियों द्वारा की गई है। अधिकारियों ने बताया कि ‘इंडोनेशिया ने निर्यात को बढ़ावा देने और हाई इन्वेंट्री को कम करने के लिए 31 अगस्त तक सभी पाम तेल प्रोडक्ट्स के लिए अपने निर्यात शुल्क को खत्म कर दिया है।’

मालूम हो की दुनिया का सबसे बड़ा पाम तेल का निर्यातक इंडोनेशिया ही है। और इंडोनेशिया द्वारा लिए गए इस फैसले से पाम तेल की कीमतों में और गिरावट आ सकती है। बता दें कि अप्रैल के अंत से एक साल में पाम तेल की कीमत में करीब करीब 50% की गिरावट देखी गई।

तेल तिलहन के दाम हुए कम

अगर देशी बाजार की बात करें तो, देशी बाजारों में खाद्य तेलों के भाव टूटने के कारण बीते सप्ताह देशभर के तेल-तिलहन बाजारों में सरसों, सोयाबीन तेल-तिलहन और पामोलीन तेल कीमतों में गिरावट देखी गई। वहीं मूंगफली और कच्चे पामतेल (सीपीओ) के भाव में सुधार देखा गया। तो वहीं बाकी तेल-तिलहनों के भाव अपरिवर्तित रहे। मामले में सूत्रों ने बताया कि बाहरी देशो में खाद्य तेलों का बाजार काफी कम हुआ है जो गिरावट का मुख्य कारण है।

ये गिरावट का कारण है कि से देश में आयातकों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है क्योंकि उन्होंने जिस भाव पर सौदे खरीदे थे अब उसे कम भाव पर बेचना पड़ रहा है। बता दें उन्होंने जिस सीपीओ का आयात 2,040 डॉलर प्रति टन के भाव पर किया था उसकी अगस्त खेप का मौजूदा भाव घटकर लगभग 1,000 डॉलर प्रति टन रह गया। यानी थोक में सीपीओ (सारे खर्च व शुल्क सहित) 86.50 रुपये प्रति किलो होगा।

क्या है अभी कीमत

सूत्रों से मिलनी जानकारी के हिसाब से सोयाबीन में आई गिरावट के कारण पामोलीन तेल के भाव पर भी असर पड़ा है। सीपीओ के कारोबार में सिर्फ भाव ही है कोई सौदे नहीं हो रहे क्योंकि आयातकों के खरीद भाव की बात करें तो इनके दाम से भी कम चल रहे हैं। इतना ही नहीं सामने ये भी जानकारी आई कि ‘पिछले सप्ताहांत के मुकाबले बीते सप्ताह सरसों दाने का भाव 125 रुपये की गिरावट देखी गई जिसके बाद वो 7,170-7,220 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुआ। सरसों दादरी तेल समीक्षाधीन सप्ताहांत में 250 रुपये की गिरावट के साथ 14,400 रुपये क्विंटल पर बंद हुआ।

वहीं सरसों पक्की घानी और कच्ची घानी तेल की कीमतें भी क्रमश: 35-35 रुपये घटकर क्रमश: 2,280-2,360 रुपये और 2,320-2,425 रुपये टिन (15 किलो) पर बंद हुई थी।’ तो वहीं दूसरी ओर समीक्षाधीन सप्ताह में कच्चे पाम तेल (सीपीओ) का भाव 50 रुपये बढ़कर 10,950 रुपये क्विंटल हो गया। जबकि पामोलीन का दिल्ली में भाव 400 रुपये से टूटकर 12,400 रुपये और पामोलीन कांडला का भाव 250 रुपये टूटकर 11,300 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद किया गया।

Copy

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copy